जल संसाधन विभाग के पुनर्गठन से संबंधित पत्र, आदेश एवं अधिसूचनाओं का संग्रह

प्रसंग विषय
अधिसूचना 290 दिनांक 08.02.2017 जल संसाधन विभाग के अंतर्गत कार्यरत तीनों अभियंता प्रमुख का कार्यक्षेत्र का पुनर्निधारण
अधिसूचना 159 दिनांक 25.01.2017 बाढ़ नियंत्रण एवं जल निस्सरण प्रमंडल, विहारशरीफ में कार्यरत सभी राजस्वकर्मी को मुख्य अभियंता, सिंचाई सृजन जल संसाधन विभाग, बिहारशरीफ के अन्तर्गत सिंचाई प्रमंडल, बिहारशरीफ में समाहित किये जाने के संबंध में
अधिसूचना 40 दिनांक 12.01.2017 संशोधित कार्य क्षेत्र के निर्धारण के संबंध में
पत्रांक-2305 दिनांक 07.09.2016 विभागीय अधिसूचना संख्या 1058 दिनांक 10.05.2016 का शुद्धि पत्र
पत्रांक-2304 दिनांक 07.09.2016 विभागीय अधिसूचना संख्या 1195 दिनांक 24.05.2016 का शुद्धि पत्र
पत्रांक-2303 दिनांक 07.09.2016 विभागीय अधिसूचना संख्या 1102 दिनांक 12.05.2016 का शुद्धि पत्र
पत्रांक-2302 दिनांक 07.09.2016 विभागीय अधिसूचना संख्या 1057 दिनांक 10.05.2016 का शुद्धि पत्र
पत्रांक-2301 दिनांक 07.09.2016 विभागीय पत्र संख्या 1102 दिनांक 12.05.2016 का शुद्धि पत्र
आदेश संख्या-439 दिनांक 13.07.2016 अभियंता प्रमुख सिंचाई सृजन, जल संसाधन विभाग को कमांड क्षेत्र विकास निदेशालय, जल संसाधन विभाग का प्रभारी अभियंता प्रमुख बनाए जाने के सम्बन्ध में
आदेश संख्या-438 दिनांक 13.07.2016 क्षेत्रीय विकास आयुक्त-सह-अध्यक्ष, गंडक कमांड क्षेत्र विकास अभिकरण, मुज़फ्फरपुर के पदनाम से विभिन्न बैंकों में संचालित खाता को बंद कर उसमें जमा राशि को गंडक कमांड क्षेत्र विकास अभिकरण, मुज़फ्फरपुर के नाम से नया खाता खोलकर जमा करने एवं इस नए खाता को संचालित करने हेतु अधीक्षण अभियंता-1 (मुख्यालय), गंडक कमांड क्षेत्र विकास अभिकरण, मुज़फ्फरपुर को प्राधिकृत किये जाने के सम्बन्ध में
आदेश संख्या-437 दिनांक 13.07.2016 गंडक कमांड क्षेत्र विकास अभिकरण, मुज़फ्फरपुर में कार्यरत अधीक्षण अभियंता-1 (मुख्यालय) को क्षेत्रीय विकास आयुक्त-सह-अध्यक्ष, गंडक कमांड क्षेत्र विकास अभिकरण, मुज़फ्फरपुर की प्रशासनिक, वित्तीय, तकनीकी न्यायालयीय एवं अन्य शक्तियाँ प्रत्यायोजित किये जाने के सम्बन्ध में
आदेश संख्या-1723 दिनांक 08.07.2016 गुण नियंत्रण प्रमंडलों के नियंत्री पदाधिकारी एवं स्थानीय नियंत्रण का विवरण
आदेश संख्या-1672 दिनांक 05.07.2016 पुनर्गठन के क्रम में विभिन्न स्वीकृत्यादेशों द्वारा कार्यालयों के लिए निर्धारित पद के क्रम में विभिन्न कार्यालयों में हो रहे अतिरेक कर्मियों के सम्बन्ध में दिशा-निदेश
पत्रांक-1663 दिनांक 04.07.2016 विभागीय पत्रांक 1311 दिनांक 13.06.2016 का शुद्धि पत्र
पत्रांक-1311 दिनांक 13.06.2016 विभाग के पुर्नगठन के क्रम में समाप्‍त होने वाली कार्यालयों के अभिलेखों तथा दायित्‍वों के लेखा संधारण के संबंध में।
पत्रांक-1310 दिनांक 13.06.2016 पुनर्गठन के फलस्‍वरूप प्रमंडलों द्वारा किये जाने वाले कार्यो के सम्‍पादन हेतु दिशा-निर्देश से संबंधित आदेश संख्या-1225 दिनांक 31.05.2016 का शुद्धि पत्र
पत्रांक-1227 दिनांक 31.05.2016 विभागीय अधिसूचना संख्‍या 1195 दिनांक 24-05-2016 का शुद्धि पत्र
आदेश 1226 दिनांक 31.05.2016 कार्यालयों के पुनर्गठन के क्रम में निर्गत स्‍वीक़त्‍यादेश एवं अधिसूचनाओं के कार्यान्‍वयन हेतु दिशा-निर्देश
आदेश 1225  दिनांक 31.05.2016 पुनर्गठन के फलस्‍वरूप प्रमंडलों द्वारा किये जाने वाले कार्यो के सम्‍पादन हेतु दिशा-निर्देश
अधिसूचना 1195 दिनांक 24.05.2016 जल संसाधन विभाग के पुनर्गठन के फलस्‍वरूप पूर्ववर्त्‍ती कार्यालयों के नये नामों की विवरणी
पत्रांक- 1102 दिनांक 12.05.2016 जल संसाधन विभाग के अंतर्गत सचिव एवं कर्मचारीवृन्द, निदेशक, भू-अर्जन एवं पुनर्वास, संपर्क कार्यालय एवं संपर्क सह भू-अर्जन कार्यालय तथा चिकित्सा पदाधिकारी एवं मलेरिया पदाधिकारी के कार्यालयों में विभिन्न पदों के निर्धारण एवं पुनर्गठन की स्वीकृति
पत्रांक-1059 दिनांक 10.05.2016 जल संसाधन विभाग के अधीन योजनाओं के प्रभावी कार्यान्‍वयन हेतु विभाग के अन्‍तर्गत मुख्‍यालय खण्‍ड के अन्‍तर्गत विभिन्‍न मुख्‍य अभियंता परिक्षेत्राधीन प्रमण्‍डल (अवर प्रमण्‍डल सहित) स्‍तर के कार्यालयों का निर्धारण एवं मुख्‍यालयों का पुनर्गठन की स्‍वीकृति
पत्रांक-1058 दिनांक 10.05.2016 जल संसाधन विभाग के अधीन योजनाओं के प्रभावी कार्यान्‍वयन हेतु विभाग के अन्‍तर्गत बाढ़ नियंत्रण एवं जल निस्‍सरण खण्‍ड के अन्‍तर्गत विभिन्‍न मुख्‍य अभियंता परिक्षेत्राधीन प्रमण्‍डल (अवर प्रमण्‍डल सहित) स्‍तर के कार्यालयों का निर्धारण एवं मुख्‍यालयों का पुनर्गठन की स्‍वीकृति
पत्रांक-1057 दिनांक 10.05.2016 जल संसाधन विभाग के अधीन योजनाओं के प्रभावी कार्यान्‍वयन हेतु विभाग के अन्‍तर्गत सिंचाई सृजन खण्‍ड के अन्‍तर्गत विभिन्‍न मुख्‍य अभियंता परिक्षेत्राधीन प्रमण्‍डल (अवर प्रमण्‍डल सहित) स्‍तर के कार्यालयों का निर्धारण एवं मुख्‍यालयों का पुनर्गठन की स्‍वीकृति
पत्रांक-941 दिनांक 29.04.2016 जल संसाधन विभाग के अधीन योजनाओं के प्रभावी कार्यान्‍वयन हेतु विभाग के अन्‍तर्गत मुख्‍यालय खण्‍ड के अन्‍तर्गत विभिन्‍न मुख्‍य अभियंता परिक्षेत्राधीन अंचल स्‍तर के कार्यालयों का निर्धारण एवं मुख्‍यालयों के पुनर्गठन की स्‍वीकृति।
पत्रांक-940 दिनांक 29.04.2016 जल संसाधन विभाग के अधीन योजनाओं के प्रभावी कार्यान्‍वयन हेतु विभाग के अन्‍तर्गत बाढ़ नियंत्रण एवं जल निस्‍सरण खण्‍ड के अन्‍तर्गत विभिन्‍न मुख्‍य अभियंता परिक्षेत्राधीन अंचल स्‍तर के कार्यालयों का निर्धारण एवं मुख्‍यालयों के पुनर्गठन की स्‍वीकृति।
पत्रांक-939 दिनांक 29.04.2016 जल संसाधन विभाग के अधीन योजनाओं के प्रभावी कार्यान्‍वयन हेतु विभाग के अन्‍तर्गत सिंचाई स़ृजन खण्‍ड के अन्‍तर्गत विभिन्‍न मुख्‍य अभियंता परिक्षेत्राधीन अंचल स्‍तर के कार्यालयों का निर्धारण एवं मुख्‍यालयों के पुनर्गठन की स्‍वीकृति।
पत्रांक-878 दिनांक 20.04.2016 जल संसाधन विभाग के अधीन योजनाओं के प्रभावी कार्यान्‍वयन हेतु विभाग के अन्‍तर्गत अभियंता प्रमुख, बाढ़ नियंत्रण एवं जल निस्‍सरण के अधीन मुख्‍य अभियंता के कार्यालयों का निर्धारण एवं मुख्‍यालयों के पुनर्गठन की स्‍वीकृति।
पत्रांक-879 दिनांक 20.04.2016 जल संसाधन विभाग के अधीन योजनाओं के प्रभावी कार्यान्‍वयन हेतु विभाग के अन्‍तर्गत अभियंता प्रमुख, मुख्‍यालय के अधीन मुख्‍य अभियंता के कार्यालयों का निर्धारण एवं मुख्‍यालयों के पुनर्गठन की स्‍वीकृति।
पत्रांक-877 दिनांक 20.04.2016 जल संसाधन विभाग के अधीन योजनाओं के प्रभावी कार्यान्‍वयन हेतु विभाग के अन्‍तर्गत अभियंता प्रमुख, सिंचाई सृजन के अधीन मुख्‍य अभियंता के कार्यालयों का निर्धारण एवं मुख्‍यालयों के पुनर्गठन की स्‍वीकृति।
पत्रांक-876 दिनांक 20.04.2016 जल संसाधन विभाग के अधीन योजनाओं के प्रभावी कार्यान्‍वयन हेतु विभाग के अन्‍तर्गत अभियंता प्रमुख, सिंचाई सृजन,  अभियंता प्रमुख, बाढ़ नियंत्रण एवं जल निस्‍सरण एवं अभियंता प्रमुख, मुख्‍यालय के रूप में पृथक खण्‍ड गठित करने एवं इनके कार्यालयों के पुनर्गठन की स्‍वीक़ति के संबंध में।
गै0 स0 प्रे0-50 दिनांक 18.01.2016 दिनांक 15.12.2015 को माननीय मुख्‍यमंत्री की अध्‍यक्षता में संपन्‍न समीक्षात्‍मक बैठक के संबंध में।